Top 10 Benefits Of Ashwagandha In Hindi 2021

/ / / Top 10 Benefits Of Ashwagandha In Hindi 2021

आयुर्वेद का महत्व हमारे भारतवर्ष में कई हजारों वर्षो  पहले से हैं,  और हमारे धर्म ग्रंथों में भी आयुर्वेद के बारे में संपूर्ण उल्लेख मिलता है।  आयुर्वेद में कई ऐसी जड़ी- बूटियां हैं  जिनका उपयोग प्राचीन समय में ऋषि मुनि किया करते थे दोस्तों आज हम आयुर्वेद क़ी ऐसी ही एक औषधि अश्वगंधा की बात करेंगे।  जो ना केवल अनेकों बीमारियों को दूर करने में सक्षम है,  अपितु इसका उल्लेख आयुर्वेद में बेहद ही कारगर जड़ी-बूटी के रूप में मिलता है।

आयुर्वेद के विशेषज्ञों ने अश्वगंधा के बारे में बताते हुए ऐसी जानकारी दी है जिसका पता शायद ही किसी को हो अश्वगंधा का इस्तेमाल कई प्रकार की बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता है और साथ ही अश्वगंधा में सेहत के फायदे के लिए कई छोटे-बड़े गुण मौजूद होते हैं ।  जो कि समयानुसार हमारे शरीर के लिए कारगर साबित होते हैं  दोस्तों आज हम बात करेंगे अश्वगंधा के 10 ऐसे फायदो के बारे में जिनके बारे में सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे ।

 

अश्वगंधा एक प्रकार का छोटा सा पौधा होता है ।  जिसकी ज़ड़ो का ही ज्यादातर इस्तेमाल बीमारियों को दूर करने में किया जाता है।
Benefits Of Ashwagandha

 

तो आइए अब आगे जानते हैं अश्वगंधा से होने वाले फायदो के बारे में! कि कैसे अश्वगंधा का रोज़ाना सेवन हमारे शरीर के लिए रामबाण औषधि साबित हो सकता है। 

 

Top 10 benefits of अश्वगंधा –

1- अश्वगंधा से दूर होगी अनिद्रा और बेचैनी

दोस्तों अक्सर ज्यादातर लोगों को रात को नींद आने में प्रॉब्लम होती है,  और कई लोग तो सारी रात जगे रहते हैं और उन्हें फिर भी नींद नहीं आती जिसका उनकी दिनचर्या पर गहरा असर पड़ता है और वह अपना काम भी ठीक से नहीं कर पाते हैं।
दोस्तों ऐसे में उन लोगों को अश्वगंधा का सेवन करना चाहिए क्योंकि एक अध्ययन में बताया गया है कि अश्वगंधा की पत्तियों में ट्राइथिलीन ग्लाइकोल नाम का योगिक मौजूद होता है, जो आप को पर्याप्त सुकून भरी नींद दिलाने में सहयोग करता है, इसीलिए ज़िन्हे नींद नहीं आती उन्हें अश्वगंधा का सेवन जरूर करना चाहिए।

2- डायबिटीज को कंट्रोल करने में सहायक

दोस्तों आजकल की दिनचर्या और असंतुलित खान-पान के कारण लोग कई प्रकार की बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं, जिसमें डायबिटीज भी एक ऐसे ही बीमारी है।
आज हमारे भारत देश की ही बात करें तो हर तीसरे इंसान को डायबिटीज की समस्या है,  वैसे तो डायबिटीज का इलाज संभव नहीं है लेकिन भारतीय आयुर्वेद में डायबिटीज का इलाज आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों द्वारा संभव बताया गया है, आयुर्वेद में बताया गया है कि अश्वगंधा के सेवन से डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है, इसीलिए जिन्हें भी डायबिटीज की समस्या है उन्हें अश्वगंधा का रोजाना सेवन करना चाहिए।

3- पुरुषों में यौन शक्ति बढ़ाने में सहायक

दोस्तों काफी पुरुष अपने जीवन साथी के साथ अपने सेक्सुअल रिलेशनशिप को लेकर खुश नहीं रहते  और अक्सर पुरुषों में जल्दी ही सेक्स की भूख खत्म होने लगती है तो फिर ऐसे में अश्वगंधा पुरुषों के लिए किसी रामबाण से कम नहीं है अश्वगंधा में कुछ ऐसे शक्ति वर्धक गुण मौजूद होते है< /div>

जिनके सेवन से पुरुषों में होने वाली सेक्स की समस्या का समाधान किया जा सकता है इसके अलावा अश्वगंधा के सेवन से वीर्य में कमी सेक्स इच्छा में कमी और यहां तक कि शीघ्रपतन जैसी समस्याओं  से भी छुटकारा पाया जा सकता है अश्वगंधा का सेवन महिलाएं भी कर सकती हैं ।

4-मानसिक तनाव को कम करने में सहायक

आजकल की रोजमर्रा की जिंदगी में हर दूसरा इंसान मानसिक तनाव से जूझता है, और इसी मानसिक तनाव  (stress ) के कारण लोग अपनी जिंदगी से खुश नहीं है।  दोस्तों अगर आपको भी मानसिक तनाव जैसी कोई समस्या है तो आप अश्वगंधा का सेवन करके मानसिक तनाव से हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते हैं।

5- कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक अश्वगंधा

दोस्तों अगर हम अश्वगंधा के फायदे की बात करें तो इसके फायदे इतने हैं कि इसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता अश्वगंधा की औषधि कई बीमारियों में रामबाण मानी जाती है।
और यहां तक कि दिल के मरीजों के लिए भी अश्वगंधा का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है, अश्वगंधा में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइन्फ्लेमेटरी  आदि गुण हमारे शरीर से कोलेस्ट्रोल को कम करते है।
  अश्वगंधा के सेवन से हृदय की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है और काफी हद तक कोलेस्ट्रॉल का लेवल भी कम हो जाता है, जो लोग हाई कोलेस्ट्रॉल से जूझ रहे हैं उन्हें अश्वगंधा का सेवन करना चाहिए अश्वगंधा के लगातार सेवन से  कोलेस्ट्रोल की बढ़ती मात्रा को नियंत्रित किया जा सकता है।

6- वजन बढ़ाने में सहायक अश्वगंधा

दोस्तों वैसे तो भारत में हर एक दूसरा इंसान मोटापे से जूझ रहा है और कई लोगों का वजन तो 90 -100 किलो के भी पार चले जाता है  लेकिन  इसके उलट कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिनका वजन बढ़ने का नाम ही नहीं लेता और यहां तक कि कई लोगों का वज़न तो 50 किलो से भी कम होता है इनका शरीर बेहद ही कमजोर होता है जिस कारण ऐसे लोग लोगों के बीच में जाने से  भी शर्माते हैं
क्योंकि जब यह लोग अन्य लोगों के बीच में जाते हैं तो अक्सर लोग इनके कमजोर शरीर को लेकर इन पर हंसते हैं दोस्तों ऐसे में कमजोर शरीर वाले लोगों को अश्वगंधा का सेवन जरूर करना चाहिए  इसके लगातार सेवन से वजन में बढ़ोतरी होती है जिसका असर एक महीने में ही दिख जाता है,  और इसके अलावा अश्वगंधा के लगातार सेवन से मांसपेशियों को मजबूती मिलती है इसमें फैट नहीं होता इसीलिए यह मोटापे को नहीं बढ़ाता है।

7- तेजी से हाइट बढ़ाने में सहायक

दोस्तों शायद ही आपको पता होगा कि अश्वगंधा का  लगातार इस्तेमाल हमारी हाइट बढ़ाने में सहायक है,  कई ऐसे लोग होते हैं जिनकी हाइट बेहद ही कम होती है जिस कारण उन्हें समाज के बीच जाने में  शर्मिंदगी  होती है जिस शर्मिंदगी का कारण सिर्फ उनकी हाइट होता है ऐसे लोगों को घबराने की कोई जरूरत नहीं है अगर वह लोग जिनकी हाइट बेहद कम है  तो वे लोग अश्वगंधा का इस्तेमाल कर सकते हैं और मैं तो यहां तक कहूंगा कि  हर माता-पिता को अपने बच्चों को हफ्ते में तीन दिन अश्वगंधा का सेवन कराना चाहिए।

8- दिमाग की शक्ति बढ़ाने में सहायक

जी हां दोस्तों! अश्वगंधा दिमाग की शक्ति बढ़ाने में सहायक औषधि है अश्वगंधा का लगातार इस्तेमाल हमारे दिमाग की शक्ति बढ़ाने में सहायता प्रदान करता है, कई लोग अक्सर चीजों को भूल जाते हैं तो ऐसे लोगों को प्रतिदिन अश्वगंधा का सेवन करना चाहिए,  क्योंकि जब दिमाग ही स्वस्थ नहीं रहेगा तो रोजमर्रा के काम करने में भी समस्याओं का सामना करना पड़ेगा इसीलिए दिमाग की शक्ति के लिए अश्वगंधा ही सबसे कारगर औषधि  है।

9- जोड़ों में दर्द से राहत देगा अश्वगंधा

आज के समय में हर 50 वर्ष से ऊपर के व्यक्ति के जोड़ों में दर्द रहता है जिस कारण लोगों को उठने बैठने में खासा परेशानियों का सामना करना पड़ता है,  जोड़ों में दर्द के लिए अश्वगंधा एक कारगर औषधि है जिसके लगातार इस्तेमाल से जोड़ों के दर्द से छुटकारा मिल जाता है।

10- आंखों की रोशनी बढ़ाएगा अश्वगंधा

दोस्तों अपने अक्सर ख्याल किया होगा कि आज के समय में हर तीसरे इंसान को चश्मा लग जाता है  चाहे फिर कोई ऑफिस में काम कर रहा हो या फ़िर स्टूडेंट हो उन्हें नजरों की समस्याओ का सामना करना पड़ता है तो ऐसे में अश्वगंधा को आंवला और मुलेठी के साथ मिलाकर चूर्ण बनाकर फिर उस एक चम्मच चूर्ण को सुबह और शाम पानी के साथ सेवन करने से आंखों की रोशनी में वृद्धि होती है।

 

दोस्तों मैं उम्मीद करता हूँ कि अश्वगंधा के बारे में बताई गई जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी! धन्यवाद

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *